Atm full form

Atm full form | एटीएम का फूल फॉर्म क्या है?

Atm full form in hindi : नमस्कार दोस्तों ! क्या आपको atm full form पता है? यदि नहीं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको atm full form और atm का full form क्या है के बारे जानकारी प्रदान करने वाले हैं। यह लेख पढ़ने के बाद आपको atm full form in hindi के विषय में सभी आवश्यक जानकारी मिल जाएगी।

दोस्तों आप सभी एटीएम मशीन का इस्तेमाल करते ही होंगे क्योंकि आजकल एटीएम ही पैसे निकालने का सबसे आसान और सही तरीका है तो फिर बैंक के झंझट में कोन पड़ेगा ? सबसे अच्छी बात यह है कि एटीएम हमे 24/7 मतलब दिन के 24 घंटे हमे बैंक खाते से पैसे निकालने और डालने की सुविधा देता है और इसका इस्तेमाल करना भी पूरी तरह से सुरक्षित है।

Atm का इस्तेमाल सभी लोग करते हैं पर उनमें से कुछ लोगों को ही atm का full form क्या है पता होता है और बाकी लोग एटीएम का फूल फॉर्म क्या है बता नहीं पाते। यदि आपको भी atm full form पता नहीं है तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं क्योंकि इस पोस्ट में हमने आपको atm ka full form क्या है यानी atm full form के विषय में पूरी जानकारी प्रदान कि है।

Atm full form | Atm का full form क्या है? एटीएम का मतलब क्या है ?

Atm full form | एटीएम का फूल फॉर्म क्या है ?

दोस्तों एटीएम एक इलेक्ट्रॉनिक्स टेलीकम्युनिकेशन मशीन है जो कि हमें बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध कराती हैं। Atm का full form – Automatic Teller Machine होता है। पर यह एटीएम का फूल फॉर्म सभी लोगों को पता नहीं होता है कुछ लोग atm ka full form गलत बताते है। एटीएम में मशीन से हम कभी भी पैसे निकाल सकते है इसलिए कुछ लोगों को लगता है कि Atm full form – Any time money होता है पर यह एटीएम का सही फूल फॉर्म नहीं है।

आप एटीएम को हमेशा इस्तेमाल करते हैं मतलब आपको atm का फूल फॉर्म पता होना चाहिए। इसे कई बार कई सारे प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पूछा गया है और आगे भी पूछा जा सकता है। पर याद रखे की atm का फूल फॉर्म Automatic Teller machine ही है। इसे कुछ लोग Any time money भी लिखते है पर यह atm full form गलत है।

Atm full form in hindi | एटीएम का फूल फॉर्म हिंदी में

दोस्तों एटीएम का फूल फॉर्म अंग्रेजी में आप जान ही गए होंगे यह automated trailler machine होता है पर atm का फूल फॉर्म हिंदी में ” स्वयंचालित गणक मशीन ” है। इसे आप जरूर याद रखे।

इंडिया में एटीएम का पूरा नाम automated teller machine यानी स्वयंचालित गनक मशीन है पर दूसरे देशों में इसे कई सारे नामों से जाना जाता है। कुछ देशों में इसे “hole in the wall” की उपाधि दी जाती है। कनाडा में एटीएम को ABM के रूप में जाना जाता है और इसका अर्थ होता है Automated banking machine और भी कई सारे देशों में इस cash counter, cash machine, mini bank जैसे नामों से पहचानते हैं।

Atm क्या है ? | atm meaning in hindi

एटीएम एक इलेक्ट्रॉनिक्स टेलीकम्युनिकेशन मशीन है जिसकी उपयोग वित्तीय लेन देन के लिए किया जाता है जैसे बैंक खाते से पैसे निकालना, बैंक खाते में पैसे डालना और किसी और के बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करना जैसे काम यह atm करता है। इसलिए एटीएम को कई सारे देशों में mini bank के रूप में भी जानते हैं।

एटीएम हम बैंक खातों में पैसे डालने और निकालने की अनुमति देता है और इसकी मदद से किसी और के कहते में भी पैसों को ट्रांसफर कर सकते है। इसे इस्तेमाल करना भी काफी आसान होता है। आजकल सभी बैंक ग्राहकों को एटीएम की सुविधा दे रहे हैं इससे बैंक कर्मचारियों का भी काम कम हो रहा है और ग्राहकों को भी जब मन चाहे तब पैसे निकालने की सुविधा मिल रही है।

एटीएम का इस्तेमाल करने के लिए बैंक ग्राहकों को एटीएम कार्ड यानी डेबिट या क्रेडिट कार्ड देती है जिसके जरिए ग्राहक अपने खातों से पैसे निकाल पाते हैं। इसके लिए एटीएम मशीन में atm card को डालना होता है फिर एटीएम मशीन आपकी बैंक डिटेल्स को चैक करके आपको पिन मांगती है। आपने पिन डालने के बाद जितनी चाहे उतनी रकम आप एटीएम से निकाल सकते है।

बैंक की तरफ से डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड यह दो कार्ड मिलते है पर डेबिट कार्ड का ही atm से पैसे निकालने के लिए ज्यादा इस्तेमाल किया जाता हैं। आपनी बैंक खाते की सुरक्षा के लिए हमे अपने एटीएम कार्ड पर पिन डालना जरूरी होता है। पिन एक तरह का चार अंको का पासवर्ड होता है जिसे डालते ही आपको एटीएम से पैसे निकालने के लिए अनुमति मिलती है।

एटीएम ने मनुष्यों का जीवन बेहद ही आसान बना दिया है क्योंकि इस मशीन ने वह सारी समस्याएं दूर कर दी है जो हमे बैंकों के साथ पैसों की लेन देन करने वक्त झेलनी पड़ती थी। आज हमे बैंकों के बाहर पैसों को निकालने के लिए लंबी लाइने लगानी की जरूरत नहीं है।

क्योंकि यह एटीएम मशीन हमे बैंकिंग की वह सभी सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है और सबसे अच्छी बात यह है कि इससे बेहद ही जल्द हम पैसे निकाल सकते है हमे कोई भी कागजी कार्यवाही करने की आवश्यकता नहीं है इसलिए इससे हमारा बेहद ज्यादा समय बच जाता है।

एटीएम के पार्ट्स के बारे में जानकारी :

एटीएम मशीन में इनपुट उपकरण और आउटपुट उपकरण ऐसे दो तरह के पार्ट्स होते है। इन दो तरह के पार्ट्स से मिलकर ही एटीएम मशीन बनती है और यह हमे आसानी से पैसे निकालने की सुविधा देती है।

  1. Input devices (इनपुट उपकरण)
  2. Output deviced (आउटपुट उपकरण)

एटीएम के इनपुट उपकरण :

Card Reader : यह एटीएम मशीन का बाहरी हिस्सा होता है इसमें हमे एटीएम कार्ड को डालना या स्वाइप करना होता है। एटीएम मशीन इस कार्ड के चिप पर उपलब्ध जानकारी को पढ़कर बैंक खातों की पहचान करता है।

Keypad : यह पार्ट हमे एटीएम में पैसों कि रकम डालने में उपयोगी होता है। इसपर सभी अंक और कुछ सिम्बोल होते है जैसे clear, delete, submit आदि। इस कीपैड की मदद से हम पिन भी डालते है।

एटीएम के आउटपुट उपकरण :

Screen : यह एटीएम मशीन का एक आउटपुट उपकरण है जो हमे हमारे बैंक अकाउंट की जानकारी को स्क्रीन पर प्रदर्शित करता है। इसमें अकाउंट होल्डर का नाम, अकाउंट में मौजूद राशि के बारे में जानकारी स्क्रीन पर दिखाई जाती है।

Cash dispenser : यह एटीएम का सबसे खास आउटपुट device है जहां से हमे रकम प्राप्त होती हैं।

Reciept printer : यह हमे हमारे लेन देन के बारे में जानकारी देने वाली एक reciept छापकर देता है। इसमें निकाली गई रकम, शिल्लक राशि, समय और स्थल के बारे में जानकारी होती है।

Sound : कुछ एटीएम मशीनों में साउंड होते है जो आपको आपके transaction की जानकारी देते है।

एटीएम कैसे काम करता है ?

आपको atm full form के बारे में जानकारी मिल गई है अब हम देखते है कि यह एटीएम कैसे काम करता है।

  • एटीएम से पैसे निकालने के लिए सबसे पहले हमें एटीएम में एटीएम कार्ड डालना है। कुछ एटीएम मशीनों में एटीएम कार्ड को स्वाइप करने की भी सुविधा होता है।
  • एटीएम कार्ड पर एक electronic चिप लगी होती है जिसमे बैंक अकाउंट की सभी जानकारी embeded होती है। जैसे ही आप एटीएम कार्ड को एटीएम मशीन में डालते है मशीन उस चिप को read करके आपके बैंक खाते की जानकारी को हासिल करता हैं। इसके आधार पर ही पिन की जांच की जाती है।
  • एटीएम कार्ड डालने के बाद अब हमें पिन डालने के लिए कहा जाता हैं। पिन यह आपके बैंक खाते का चार अंको का पासवर्ड होता है।
  • पिन डालने के बाद एटीएम मशीन उस पिन कि जांच करता है और यदि पिन सही है तो फिर आपको बैंक खाते से पैसे निकालने की अनुमति देता है।
  • अब आपको जितने पैसे निकालने है उतनी राशि को टाइप करना है और फिर सबमिट पर क्लिक करना है।
  • अब एटीएम मशीन आपने जितनी रकम डाली थी उतनी निकालकर देगी लेकिन इसके लिए आपके बैंक खाते में उतनी राशि मौजूद होना भी जरूरी है।
  • यदि आप ऐसी रकम डालते है जो कि आपके खाते में उपलब्ध ही नहीं है तो फिर आपको एटीएम मशीन invalid transaction या insufficient balance का एरर मेसेज दिखता है।

इस तरह इन स्टेप्स को फॉलो करके आप एटीएम मशीन से पैसे निकाल सकते हैं।

एटीएम के फायदे ( advantages of atm in hindi )

  • एटीएम मशीन से हम बेहद ही आसानी से जब चाहे तब पैसे निकाल सकते है और एटीएम की सुविधा 24/7 उपलब्ध होती है।
  • एटीएम से पैसे निकालना बैंक की तुलना में बेहद ही आसान है क्योंकि एटीएम से पैसे निकालने के लिए हमे कोई भी कागजी कार्रवाई करने की आवश्यकता नहीं होती है। इसलिए हमारा काफी समय बचता है।
  • एटीएम से पैसे निकालने के लिए पिन की आवश्यकता होती है और यह सिर्फ उस अकाउंट धारक को ही पता होता है। इसलिए यदि आपका एटीएम कार्ड घूम भी गया तो भी कोई आपके अकाउंट से पैसे नहीं निकाल पाएगा।
  • शहरों में सभी जगहों पर एटीएम होते है इसलिए हमे पैसे निकलने के लिए मुश्किलों को झेलना नहीं पड़ता है और आपातकालीन स्थिति में यह हमेशा उपलब्ध रहते है।
  • एटीएम से बैंकिंग के सभी व्यवहार करना काफी सुरक्षित होता है क्योंकि इसमें सभी डेटा एन्क्रिप्टेड रहता है।
  • एटीएम से हम पैसे निकाल सकते है, बैंक खाते में पैसे डाल सकते हैं और किसी के भी खाते में पैसे ट्रांसफर भी कर सकते है।

आपने क्या सीखा ?

दोस्तों आज कि इस पोस्ट में हमने आपको एटीएम क्या है, atm का full form क्या है, atm full form in hindi और एटीएम का मतलब क्या है कि विषय में जानकारी दी है। मुझे उम्मीद है कि आपको एटीएम का फूल फॉर्म क्या है के बारे में सभी आवश्यक जानकारी मिल गई होगी। हमारी हमेशा यही उम्मीद होती है कि हम अपने पाठकों को atm full form जैसी ज्ञानवर्धक जानकारी कैसे प्रदान की जाए।

हम हमेशा एटीएम को इस्तेमाल करते हैं इसलिए हमे atm full form के बारे में पता होना चाहिए। पर ऐसे बहुत से लोग है जिन्हे atm ka full form पता नहीं है। इसलिए यह पोस्ट लिखा गया हैं ताकि में अपने पाठकों को atm full form और atm meaning in hindi के बारे में जानकारी दे सकूं।

यदि आपको एटीएम के बारे में कोई भी समस्या है तो हमे कॉमेंट करके जरूर बताइए, धन्यवाद…!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x