History of python – पाइथन का इतिहास

History of python in hindi– नमस्कार दोस्तों! आज के इस आर्टिकल में हम python के इतिहास के बारे में जानने वाले हैं। पाइथन का संशोधक कोन है, python का निर्माण किस देश में हुआ है,इसे किसने बनाया है ऐसे सभी मुद्दों के बारे में हम जानकारी पाएंगे। तो चलिए देखते है कि क्या है python का इतिहास (History of python hindi me)

Python language का इतिहास
Python का इतिहास


Python का इतिहास (History of python in hindi)

Python निर्माण की प्रक्रिया 1989 में सुरु की गई थी हालांकि इसकी कल्पना 1980 के दशक में ही हुई थी। इसे Guido Van Rossum द्वारा 1989 में नेदरलैंड के CWI में बनाया गया है। इसे सन 1991 में इस्तेमाल के लिए open source language के तहत रिलीज़ किया गया। Open source language मतलब इसे सभी के लिए फ्री में डाउनलोड तथा उपयोग करने के लिए python की ऑफिशियल वेबसाइट python.org पे डाल दिया गया। इसे कोई भी इस्तेमाल कर सकता है ओ भी फ्री में।

Python का संशोधक कोन है? (Inventor of python language)

Python को Guido van Rossum द्वारा Netherland में बनाया गया था और उसे 1991 में publically रिलीज़ किया गया है। Guido Van Rossum पाइथन के प्रमुख निर्माता है, उनका पाइथन के निर्माण में बहुत बड़ा योगदान है। इसलिए Guido Van Rossum को पाइथन का जनक कहा जाता है

पाइथन के आज तक कई सारे संस्करण (versions) आ चुके है, पाइथॉन को समय नूंसार update कर उसमें नए नए features को सामिल किया जा रहा है।

पाइथन का पाहिला संस्करण python 1.0 को पाइथन के रिलीज़ होने के तीन साल बाद 1994 में मार्केट में लाया गया था। पाइथन का दूसरा संस्करण सन 2000 में लाया गया उसके बाद pyhon के तीसरे संस्करण को python 3.0 को काफी समय बाद सन 2008 में बनाया गया। आज python का python 3.8.2 यह सबसे नवीनतम संस्करण मौजूद है। इस पाइथॉन कि संस्करण को सबसे ज्यादा प्रभावशाली माना जाता है।


पाइथन को python नाम क्यों दिया गया है?

पाइथन के बारे यह एक बेहद ही interesting बात है कि इस language को python नाम क्यों दिया गया है। आपको लग रहा होगा इसका नाम पाइथन है मतलब इसका तालुक snakes सापों के साथ होगा।लेकिन ऐसा बिलकुल ही नहीं है। यह एक programming language है और नाही इसका किसी सांप के पाइथन प्रजाति से संबंध है। फिर इसे python नाम क्यों दिया है?

दरहसल ऐसा है कि जब पाइथन के संशोधक Guido van Rossum ने इसे 1989 में बनाया था। तब एक british comedy series काफी लोकप्रिय थी उस british series का नाम था, ” Monty python’s flying Circus”. Guido van Rossum जो कि पाइथन के संशोधक है वे इस series के चाहते थे,उन्हे यह series बेहद पसंद थी।  उन्होंने इसी british series के नाम से अपनी बनाई हुई कंप्यूटर भाषा को python नाम दिया। उस वक्त उन्हे python यह नाम काफी unique और मजेदार लगा था। बस यही वजह थी कि Guido van Rossum  ने अपनी बनाई programming language का नामकरण python किया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *