Introduction of python- पाइथन लैंग्वेज परिचय

Introduction of python in hindi- नमस्कार दोस्तों आज python turorial के इस आर्टिकल में  हम पाइथॉन का परिचय करेंगे। पाइथन कि बेसिक जानकारी समज लेंगे। तो चलिए सुरु करते है और देखते हैं पाइथन कंप्यूटर भाषा क्या हैं?

पाइथन का परिचय
Python का परिचय


python क्या हैं?

Python एक high level, interpreted, object oriented programming language हैं। यह दुनिया कि सबसे लोकप्रिय कंप्यूटर भाषा है। इसे दुनिया में हैकर्स, डेटा साइंटिस्ट, वेब डिजाइनर द्वारा सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। यह लैंग्वेज प्रोग्रामर्स को dynamic typing की सुविधा देती हैं, उसकी वजह से लोग इसे पसंद करते हैं।

Python के बेहद सारे ऐसे features है की जो अन्य कॉम्पुटर भाषाओं में पये नहीं जाते, यही वजह है पाइथन भाषा सबसे अलग और लोकप्रिय है। आजकल मोबाइल और कम्प्यूटर के लिए लगभग सभी apps, games, websites पाइथन का इस्तेमाल करके बनाई जा रही है क्योंकि यह पाइथन भाषा बेहद शक्तिशाली है और इसमें कोड लिखना भी आसान है।


ऐसे में यदि आपको programming में रुची है तो आपको पाइथन भाषा जरूर सिखनी चाहिए। पाइथन आपको बेहद सारे रोजगार के अवसर देती है।


python की खास बातें

  • high level
  • interpreted
  • object oriented
  • cross platform
  • GUI support
  • dynamic typing
  • multi paradigm
  • free and open source


Python language को Guido Van Rossum द्वारा बनाया गया है और इसे 1991 में इस्तेमाल के लिए रिलीज़ किया गया था।

Python अपनी user friendly syntax के लिए काफी प्रसिद्ध है। इसमें बेहद ही सरल वक्यरचना (syntax) है जो कि अंग्रेजी भाषा के समान है। पाइथन सिंटेक्स अंग्रेजी शब्दों, वाक्यांशों का उपयोग करता है।  इसलिए हमारे (मनुष्यों) के लिए Python भाषा में लिखे गए कोड को सीखना और समझना बहुत आसान है।


python को interpreted language क्यों कहा जाता है?

पायथन एक उच्च स्तरीय भाषा है और यह हमारे करीब है लेकिन कंप्यूटर उच्च स्तरीय भाषा यानी पायथन में लिखे गए कोड को समझने में असमर्थ है।

इसलिए उच्च स्तरीय भाषा (high level language) में लिखे गए इस कोड को मशीन से पठनीय भाषा (machine readable language) में binary language नामक भाषा में अनुवादित करना आवश्यक है।  दो कंप्यूटर प्रोग्राम हैं जो ज्यादातर इस कोड रूपांतरण के लिए उपयोग किए जाते हैं – compiler और interpreter हैं।  दोनों एक ही काम करते हैं लेकिन उनकी कार्य क्षमता, समय की आवश्यकता, आदि में अंतर है।


 पाइथन स्रोत कोड को मशीन भाषा (machine language) में बदलने के लिए interpreter का उपयोग करता है।  यही कारण है कि पाइथन को interpreted language कहा जाता है।


python as object oriented language

पायथन object oriented programming language है जैसे java,C++,C#, आदि। इस प्रोग्रामिंग में classes और objects की अवधारणाओं का उपयोग किया जाता है। यह एक सबसे आसान भाषा है जो कि हमे OOP की अनुमति देती है।

Multiplatform language

पाइथन एक multiplatform language है। इसका मतलब यह पाइथॉन विभिन्न प्लेटफार्मो जैसे कि windows, linux, mac, ios, आदी पे का काम करता है। पाइथन भाषा में लिखा कोड सभी platforms पर चलता है इसका मतलब हमे हर एक platform के लिए अलग अलग कोड लिखने की आवश्यकता नहीं है।


python की व्यापकता

पाइथन को पहली भाषा के रूप में सिखना एक अच्छा विकल्प हैं क्योंकी पाइथॉन सिखने और समजनें में आसान है। इसका इस्तेमाल वेब डेवलपमेंट से लेकर सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट तक हर चीज के लिए किया जाता है।

कई बड़ी और प्रसिद्ध कंपनियां python programming language का उपयोग करती हैं जिनमें Nasa, Google, YouTube, Instagram, Spotify, आदि कंपनियां शामिल हैं


पायथन प्रोग्रामिंग का व्यापक रूप से कृत्रिम बुद्धिमत्ता (artificial intelligence), मशीन लर्निंग (machine learning), डेटा एनालिटिक्स (data analytics), न्यूरल नेटवर्क (nural network) और कंप्यूटर विज्ञान के अन्य उन्नत क्षेत्रों में उपयोग किया जाता है।



Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *