iti full form

आईटीआई का फूल फॉर्म और मतलब क्या है | Iti full form in hindi

Iti full form in hindi : नमस्कार दोस्तों ! क्या आपको पता है कि आईटीआई का फूल फॉर्म क्या है iti full form in hindi और iti meaning in hindi । यदि आप iti का फूल फॉर्म नहीं जानते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़िए। इस आर्टिकल में आपको आईटीआई का फूल फॉर्म iti ka full form और आईटीआई का मतलब ( iti full form in hindi) पता चल जाएगा।

दोस्तों आईटीआई एक ऐसा संस्थान होता है जहां पर बच्चों को प्राथमिक शिक्षा प्राप्त करने के बाद एडमिशन मिलता हैं। इस आईटीआई इंस्टीट्यूट में तकनीकी और गैर तकनीकी सभी लगभग 150 से भी ज्यादा कोर्सेस के पाठ्यक्रम को पढ़ाया जाता हैं। यह एक ऐसा इंस्टीट्यूट है जो आपको काफी कम समय में इंडस्ट्री रेडी बना देता हैं।

आप यहां से किसी भी कोर्स को पूरा करने बाद केवल दो सालों में इंडस्ट्री और कार्यालयों में काम करने लायक बन जाते हो। यहां से आप अपने कैरियर की शुरुवात करके एक अच्छा खासा जॉब हासिल कर सकते हैं और पैसा भी कमा सकते हैं।

आईटीआई के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए इस लेख को पूरा पढ़िए। यहां से आप जानेंगे की iti का फूल फॉर्म क्या है iti full form in hindi और आईटीआई का मतलब ?

ITI का फूल फॉर्म हिंदी में | ITI full form in hindi

आईटीआई का फूल फॉर्म क्या है – Iti full form in hindi

ITI का full form है Industrial Training Institute। यह इंस्टीट्यूट बच्चों को काफी कम समय में इंडस्ट्री योग्य बना देता हैं। आईटीआई को हिंदी में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान भी कहा जाता हैं। यहां पर बेहद सारे इंजीनियरिंग और नोन इंजीनियरिंग कोर्सेस को पढ़ाया जाता हैं। इसलिए इसे कई लोग jr. Engineering और jr. Polytechnique के रूप में भी जानते हैं।

आज ITI instituets काफी ट्रेंड में चल रहे हैं। यहां बेहद सारे बच्चे कई सारे कोर्सेस को पूरा करके इंडस्ट्री में जॉब हासिल कर रहे हैं। यह इंस्टीट्यूट आज इंडिया का सबसे बड़ा industry workers को निर्माण करने वाला इंस्टीट्यूट बन चुका हैं।

इस आईटीआई इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेने के लिए आपको कुछ conditions को पूरा करना होगा। आईटीआई इंस्टीट्यूट को जॉइन करने की क्या आवश्यकताएं है और इसकी एडमिशन प्रोसेस क्या है इसके बारे में हम आगे इस लेख में विस्तार से जानेंगे ।

आईटीआई क्या है | Iti meaning in hindi

आईटीआई (ITI) एक संस्थान है जहां पर बच्चों को काफी कम समय में इंडस्ट्री में काम करने योग्य बनाने के लिए प्रशिक्षण मिलता हैं। इस iti ka full form – Industrial trianing institute होता हैं। आईटीआई का पाठ्यक्रम अन्य शैक्षणिक पाठ्यक्रमों से इस कदर अलग है कि इनका हेतु तुरंत दसवीं और बारहवीं कक्षा के बाद बच्चों को तेजी से रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है।

आईटीआई इंस्टीट्यूट यह भारत सरकार के श्रम और नियोजन मंत्रालय द्वारा संचालित है। इस संस्थान के निर्माण का मुख्य हेतु भारत में बेरोजगारी को नष्ट करके ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। इस संस्थान की वजह से आज भारत देश में बेहद सारे रोजगार के अवसर उपलब्ध हो रहे हैं।

इस संस्थान की सबसे खास बात यह है कि यह तुरंत दसवीं और बारहवीं कक्षा के बाद बच्चों को रोजगार के अवसर प्राप्त करने हेतु ट्रेंनिग देता हैं। आईटीआई में पढ़ाया जाने वाला पाठ्यक्रम विशेष रूप से व्यापार विशिष्ट है, जिसके कारण यह बच्चों में व्यापार के महत्वपूर्ण कौशल प्रदान करता हैं।

इस संस्थान में बच्चों को वो सभी जानकारी और प्रशिक्षण दिया जाते हैं जो उन्हे इंडस्ट्री में तुरंत जॉब पाने में कारगर साबित हो। यहां पर बच्चों के सभी व्यापारी मूल्यों और कौशल को विकसित किया जाता हैं।

आईटीआई संस्थान निजी है या सरकारी ?

सभी आईटीआई पाठ्यक्रम प्रशिक्षण संस्थान भारत सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय के दायरे में आते है। लगभग सभी iti संस्थान सरकारी या सरकार सहायता प्राप्त होते हैं जहां पर कि बच्चों को आईटीआई के पाठ्यक्रमों का प्रशिक्षण दिया जाता हैं। हालांकि कुछ निजी संस्थान भी आईटीआई पाठ्यक्रमों को संचालित करने के लिए अधिकृत हैं।

Iti का कोर्स पूरा करने में कितना खर्चा लगता हैं और नौकरी लगने पर कितना पगार मिलता हैं।

लगभग सभी आईटीआई संस्थान सरकारी या सरकारी मान्यता प्राप्त होते हैं इसलिए यहां पर आपको ना के बराबर फीस लगती है। सरकारी संस्थानों में कुछ एक साल की फीस दो हजार से पांच हजार के बीच में ही होती हैं। यदि आप हॉस्टल में रहते है तो फिर आपको हॉस्टल की अलग फीस लगती हैं।

यदि आपकी निजी मतलब गैरसरकारी आईटीआई संस्थान में एडमिशन मिलता हैं तो आपको सरकारी संस्थानों की तुलना में ज्यादा फीस लगेगी। लगभग सभी गैरसरकारी iti संस्थानों की फिस 20000 से 40000 के बीच में होती हैं। यदि आपको आपके शहर के आलावा किसी और शहर में एडमिशन मिलता है तो आपको रहने और खाने का खर्चा अलग से लग जाएगा।

Salary की बात करे तो लगभग कोर्सेस और काम के हिसाब से आपको सैलरी मिलती। आईटीआई पास करने के बाद आपको सुरूवात में 10 – 15 हजार तक की सैलरी मिल सकती है।  यह सैलरी आपने कोनसे कोर्सेस किए है, आपको किस कंपनी में नौकरी मिली है इसपर भी निर्भर होती हैं। यदि आपको अच्छी और बड़ी कंपनी में जॉब मिली हैं तो salary भी ज्यादा मिलती हैं। आपके experience के साथ आपकी सैलरी भी बढ़ जाती हैं।

आईटीआई में क्या सिखाया जाता है ?

जैसा कि ऊपर बताया है iti का पाठ्यक्रम विशेष रूप से व्यापार विशिष्ट होता हैं। यहां पर आपको theorotical ज्ञान से ज्यादा practical ज्ञान से अवगत कराया जाता हैं। यहां पर ज्यादा से ज्यादा आपको प्रेक्टिकल करवाया जाता है ताकि आप बेहद कम समय में इंडस्ट्री में काम करने योग्य बन जाओ।

यहां पर आपको वह सभी प्रेक्टिकल चीजे पढ़ाई जाती हैं जो एक इंडस्ट्री वर्कर को मालूम होनी चाहिए। इसके कारण आपके व्यापार के मूल्य और गुण बढ़ जाते है और आपके industrial skills भी विकसित होते हैं।

ITI का पाठ्यक्रम :

ITI का पाठ्यक्रम लगभग अन्य शैक्षणिक संस्थानों से अलग होता हैं। आईटीआई का पाठ्यक्रम इस कदर बनाया जाता हैं कि इससे बच्चों में ज्यादा से ज्यादा व्यापारी मूल्यों और गुणों से अवगत कराया जा सके। इसमें आपको 70% प्रेक्टिकल ज्ञान दिया जाता हैं और बाकी 30% therotical ज्ञान दिया जाता हैं।

आईटीआई में कई सारे technical और non technical कोर्सेस मौजूद हैं। इसमें लगभग 150+ engineering और non – engineering कोर्सेस को पढ़ाया जाता हैं। Engineering या technical कोर्सेस में गणित और विज्ञान जैसे विषयों की पढ़ाई होती हैं इनमें technician, electrician, wire man, computer operator जैसे कोर्सेस मौजूद हैं।

Non technical कोर्सेस में fashion designer, painter, carpenter, function decorator जैसे कोर्सेस मौजूद हैं। आपको इसमें अलग अलग कोर्सेस के लिए अलग पाठ्यक्रम मिलता हैं। जिसे आपको एक से तीन सालों में पूरा करना होता है। कुछ कोर्सेस 1 साल में पूरे होते है तो कुछ कोर्सेस का अवधि दो – तीन सालों का होता हैं। 

ITI कॉलेज में एडमिशन कैसे ले ? (ITI qualification, admission process and course duration)

आईटीआई (ITI) कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए बेहद ही कम qualification की आवश्यकता है। इसके लिए आपको आठवीं से बरावी पास तक का क्वालिफिकेशन लग सकता है। अलग अलग कोर्सेस के लिए अलग अलग क्वालिफिकेशन है। कुछ कोर्सेस को आप आठवीं पास के बाद भी कर सकते हैं और कुछ कोर्सेस करने के लिए आपको बारावी कक्षा पास होना आवश्यक हैं। हालांकि ज्यादा तर कोर्सेस की क्वालिफिकेशन दसवीं पास ही है पर कुछ ऐसे भी कोर्सेस है जिन्हें आप आठवीं या बरवी पास के बाद कर सकते है।

दूसरी क्वालिफिकेशन यह है कि आपको दसवीं या बारवी में 45% से ज्यादा मार्क्स होने चाहिए। यदि आपको इससे कम मार्क्स है तो फिर आपको आईटीआई में एडमिशन नहीं मिलेगा ।

आईटीआई में एडमिशन लेने की प्रक्रिया (Admission process):

Iti कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए सबसे पहले आपके पास दसवीं पास की मार्कशीट होनी चाहिए। हर साल में महीने के करीब आईटीआई कॉलेज के लिए फॉर्म निकलता है। आपको अपनी निजी जानकारी फॉर्म में भरके फॉर्म को सबमिट करना है। कुछ दिन बाद कॉलेज की लिस्ट लगती हैं, आपको आपके मार्क्स के नुसार आईटीआई का कॉलेज मिलता है।

जिन विद्यार्थियों को दसवीं में अच्छे मार्क्स होते हैं उन्हे सरकारी आईटीआई कॉलेज में एडमिशन मिलता है।

आईटीआई कोर्स को पूरा करने के लिए कितना समय लगता है ( ITI course duration):

आईटीआई संस्थान में कोर्सेस duration 6 महीनों से 2 साल तक का होता है। कुछ कोर्सेस ऐसे भी है जीने पूरा करने के लिए 2-3 साल लग जाते है। साधारण सभी कोर्सेस लगभग दो साल के ही होते हैं। आपका कोर्स पूरा होते ही आप जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

आईटीआई कोर्सेस करने के लाभ (benefits of iti courses)

  • आसान रोजगार
  • काफी कम समय में इंडस्ट्री में नौकरी मिलेगी
  • 150+ कोर्सेस मौजूद हैं
  • बेहद निम्नतम पात्रता
  • आईटीआई का सर्टिफिकेट भी मिलेगा

आपने क्या सीखा ?

दोस्तों आज कि इस लेख में हमने आपको आईटीआई फूल फॉर्म क्या है iti full form in hindi के बारे में जानकारी प्रदान कि है। मुझे आशा है कि आपको iti ka full form क्या है पता चल गया होगा।

Iti का फूल फॉर्म क्या है के साथ हमने आईटीआई के बारे में आपको पूरी जानकारी दी है। जैसे कि iti का मतलब iti meaning in hindi और iti का एडमिशन प्रोसेस, कोर्स ड्यूरेशन, इत्यादि।

यदि आपको आईटीआई (भारतीय औद्योगिक संस्थान) के बारे में कुछ सवाल है तो आप कॉमेंट करके जरूर बताइए, धन्यवाद !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x