IMG 20200830 174240

Python first program and print() , input() functions

 नमस्कार दोस्तों! Python tutorial के इस आर्टिकल में हम पाइथन में hello world का प्रोग्राम कैसे लिखते है समजेंगे। पाइथन में मौजूद कुछ महत्वपूर्ण functions और methods जैसे कि print(), input(), आदी सीखेंगे जो कि हमे पाइथन programs को लिखने में मदद करेंगे।

Python hello world program
Python print and input functions


  • पाइथन में hello world प्रोग्राम कैसे लिखे
  • Print() function
  • input() function
  • Controlling print() function

पाइथन में hello world प्रोग्राम कैसे लिखे?

आपने देखा होगा कि हम जब भी कोई programming language सिखते है। हर लैंग्वेज में हम hello world प्रोग्राम सीखते है। हर लैंग्वेज में हमे पहले hello world का प्रोग्राम सिखाया जाता हैं। यह प्रोग्राम सुरु में सिखना जरूरी होता है। क्योंकि यह प्रोग्राम हमे प्रारंभिक स्तर पर भाषा के वास्तविक व्यव्हार को समझने में मदद करता है। इससे हमें भाषा का स्वरूप पता चलता है।
चलिए देखते है कि पाइथन में hello world प्रोग्राम कैसे लिखते हैं
 #hello world program  
print("hello world!")
Output:
 hello world!  
उपरोक्त उदाहरण में हमने hello world का प्रोग्राम सीखा। इसमें हमने print() function की मदद से hello world स्क्रीन पर print किया। यह एक बेहद ही आसान प्रोग्राम था, है ना!

यदि आप C, C++, java जैसी programming language से परिचित है तो आपके समझ में आया होगा कि बाकी कंप्यूटर भाषाओं की तुलना में पाइथन में कोड लिखना कितना आसान है और इसमें कोड भी बेहद कम लिखना पढ़ता है। इसीलिए पाइथन आज विश्व में सबसे लोकप्रिय कंप्यूटर भाषा है।

उपयोगकर्ता की स्क्रीन पर values को कैसे print करें?

Print() function

पाइथन हमे built-in print function प्रधान करता है जिसका उपयोग उपयोगकर्ता की स्क्रीन पर डेटा को print करने के लिए या डेटा को स्क्रीन पर दर्शाने के लिए किया जाता है।हमने python tutorial की पिछली आर्टिकल्स में कई बार print function को प्रोग्राम में इस्तेमाल किया पर हमने इस function का logic कभी नहीं लिखा। क्योंकी यह एक built-in function है इसका logic पहले से ही python की लाइब्रेरी में मौजूद है। 

प्रोग्राम में उपयोगकर्ता से डेटा कैसे लेते हैं?

Input() function

सबसे पहले हम समझते है कि प्रोग्राम में input किसे कहते है। प्रोग्राम को execute करने के लिए जो भी आवश्यक जानकारी हम उपयोगकर्ता से लेते है उसे input data या सिर्फ input कहा जाता है।

हमे कई बार प्रोग्राम में उपयोगकर्ता से जानकारी (data) लेने की आवश्यकता पढ़ती है। जैसे आपने देखा होगा कि आप जब कभी ATM मशीन से पैसे निकलते है तब आपको अपना ATM pin डालने को कहा जाता है। आप अपना pin मशीन को साझा कर पैसे निकालते है। इसी आपके pin को प्रोग्रामिंग में input कहा जाता है जो कि आप प्रोग्राम को जानकारी के रूप में देते है।यह input आगे का प्रोग्राम run करने के लिए जरूरी होता है।

पाइथन में उपयोगकर्ता से input लेने के लिए input() function का उपयोग किया जाता है। यह भी एक built-in function है।

चलिए print और input function को एक उदाहरण से समझते है, ताकि आपकी कॉन्सेप्ट clear हो सके

 enter # We taken x and y as input from user  
x=int (input ("enter first number:"))
y=int (input ("enter second number:"))
#prints calculations on x and y
print(x+y)
print(x-y)
print(x*y)
print(x/y)
Output:

 enter first number:10  
enter second number:7
17
3
70
1.42

input() function कैसे कार्य करता है?

  • आपने देखा कि हम उपयोगकर्ता से input() function की मदद से प्रोग्राम में आवश्यक जानकारी लेते है।
  • जैसे ही input() function execute होता है आपके सामने एक dialogue box आता है 
  • उसमे हमे प्रोग्राम में आवश्यक जानकारी डालनी होती है
  • जैसे हमारे सामने dialogue box आता है उसके बाद आगे का प्रोग्राम execute होना बंद हो जाता है जबतक की हम कुछ input ना दे
  • जैसे ही हम जानकारी के रूप में इनपुट देते है, प्रोग्राम फिर आगे run होता है
  • और हमे अपेक्षित output मिलता है
आपने इनपुट function का कार्य तो समझ लिया अब हम देखते है कि प्रोग्राम में input कैसे दिया जाता है, प्रोग्राम में input देने के कोन कोन से साधन है।

Program में input data को कैसे दर्ज करें?

प्रोग्राम में input देने के कई सारे तरीके है, हम उनमें कुछ सबसे ज्यादा उपयोग होने वाले तरीके देखते है

Input from keyboard

यह तरीका इनपुट लेने के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है। इसमें हम कीबोर्ड की मदद से टाइप करके प्रोग्राम में इनपुट दे सकते है।

Input from mouse

हम mouse से किसी radio button को या drop down menu को click करके इनपुट दे सकते है।

Input from sound

हा यह सही है कि हम साउंड की मदद से भी प्रोग्राम को इनपुट दे सकते है। आजकल artificial intelligence की मदद से सबकुछ संभव हो गया है। ऐसे कुछ प्रोग्राम विकसित किए गए है की जिन्हे आप आपनी मु से कुछ specific word बोलके भी input दे सकते है।

Controlling the print function

जैसा कि हमने आजतक के सभी programs में देखा जब भी print function execute होता है, तो ओ output को प्रिंट करता है और program control अगली लाइन में चला जाता है। मतलब उस print statement के बाद हमने अगला print statement लिखा तो उसका output अगली लाइन में print होता है।

पाइथन में ऐसे कुछ arguments है जिनका इस्तेमाल करके हम print statement को control कर सकते है।

  1. end=’ ‘ argument
  2. sep=’ ‘ argument

Python में end=’ ‘ argument का क्या उपयोग है?

Print statement एक अतिरिक्त argument स्वीकार करता है जो कि हमे text को print करने के बाद cursor को उसी लाइन में बने रहने की अनुमति देता है। उस argument का नाम है end=’ ‘ argument

जैसे नीचे एक उदाहरण में दिखाया है
print (“Enter your name”,end=’ ‘)

यहां exression end=’ ‘ को keyword argument कहा जाता है। यही हमे cursor को एक जगह पर बने रहने की अनुमति देता है। यहां पर जो keyword शब्द इस्तेमाल किया है इसका मतलब यह पाइथन के reserved words से संबंधित नहीं है। यह एक अलग शब्द है।

चलिए अब हम एक उदाहरण देखते है ताकि आपको काफी अच्छे से समझ आए

 print ('M', end=' ')  
print ('N', end=' ')
print ('O' end=' ')
print ()
print ('P')
print ('Q')
print ('R')

Output:

 MNO  
P
Q
R

उपरोक्त उदाहरण में हमने cursor को एक जगह पर रोखने के लिए end=’ ‘ argument का इस्तेमाल किया। उसी की वजह से M, N और O एक ही लाइन पर print हो सकें। उसके बाद cursor को अगली लाइन में भेजने के लिए साधारण print() statement का इस्तेमाल किया जाता है।

Python में sep=’ ‘ argument का क्या उपयोग है?

Print statement में items को अलग करने के लिए sep=’ ‘ argument का इस्तेमाल किया जाता है।
जैसे नीचे उदाहरण में दिखाया है

 a,b,c,d=5,7,10,15  
print (a,b,c,d)
print (a,b,c,d, sep=', ')
print (a,b,c,d, sep=':')
print (a,b,c,d, sep='*')

Output:

 5 7 10 15  
5,7,10,15
5:7:10:15
5*7*10*15

आशा करता हूं कि आपको print और input function के बारे में पूरी जानकारी समझ आई होगी। अगर आपको कुछ doubt है तो आप मुझे comment में बताए में जरूर आपकी मदद करूंगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *